Niraakshrit Ya Vidhwa Pension Yojana Ki Puri Jankari

पति के मृत्यु के उपरान्त विधवा या निराश्रित महिला पेंशन योजना सरकार के द्वारा एक ऐसी पहल है जिससे बहुत-सी विधवा महिलाएँ जो कि एक भारी दुःख से गुज़री है और साथ ही साथ अब आगे खुद और अपने बच्चों के जीवन यापन के लिए और भी ज्यादा चिंतित है वह महिलाएँ निराश्रित महिला पेंशन योजना में आवेदन कर इसकी सुविधाओं का उपयोग कर अपनी आर्थिक स्थिति को कुछ हद तक संभाल सकती है|

भारत सरकार ने विधवा महिलाओ के लिए निराश्रित महिला पेंशन योजना उपलब्ध करवाना जरुरी इसलिए समझा है क्योकि महिलाएँ अपने पति की मृत्यु के बाद किसी पर बिना आश्रित हुए खुद का जीवन आत्म सम्मान के साथ बिता सके और यह योजना महिला सशक्तिकरण को भी बढ़ावा देगा|

विधवा पेंशन योजना में अगर बात की जाए तो भारत सरकार ने पूरे देश में ही इस मुहीम को चालू किया है पर अलग-अलग राज्यों में पेंशन की राशि में भी अंतर देखा गया है, पेंशन की राशि ₹500 से लेकर ₹1800 तक निश्चित की गयी है जो की हर राज्य में विभिन्न-विभिन्न है और इस राशि में हर वर्ष कुछ न कुछ बढ़ोतरी भी की जाती है|

इस योजना के लिए आवेदन करना अब पहले से आसान हो गया है चलिए जान लेते है कि कैसे इस योजना में आवेदन कर इस योजना का लाभ उठाए|

 

निराश्रित या विधवा पेंशन देने की पात्रता या योग्यता

1) विधवा या निराश्रित महिला पेंशन को जारी करने के लिए सबसे ज़रुरी यह है कि महिला नाबालिक न हो, महिला की उम्र कम से कम 18 वर्ष होना अनिवार्य है नहीं तो यह बाल विवाह के अंतर्गत आ जाता है जो की ये खुद एक कानूनी अपराध है अधिकतम आयु 60 वर्ष निर्धारित की गयी है | जन्म प्रमाण तथ्य का सत्यापन करने के लिए महिला अपना जन्म प्रमाण-पत्र या अन्य प्रमाण दिखा सकती है|

2) विधवा महिला का पुनर्विवाह न किया गया हो अथवा सरकार के द्वारा वृद्धावस्था या अन्य कोई सरकारी सहायता प्राप्त ना हो रही हो|

 

3) निराश्रित महिला गरीबी रेखा से नीचे जीवन यापन कर रही हो और उसके बच्चे नाबालिग हो या बालिग़ होने पर भी अपना भरण पोषण करने में असमर्थ हो|

4) महिला के पास बुनियादी दस्तावेज़ जैसे कि आधार कार्ड, राशन कार्ड, वोटर कार्ड तथा निवास प्रमाण पत्र इत्यादि|

5) सरपंच और पटवारी द्वारा हस्ताक्षर की गयी रिपोर्ट |

 

विधवा पेंशन योजना के लिए आवेदन आवेदन कहाँ करना है ?

ग्रामीण क्षेत्र की महिलाओ को ग्राम सभा में आवेदन करना होगा और शहरी निवासी को जिला प्रोवेशन अधिकारी कार्यालय में करना होगा|

 

विधवा पेंशन बनवाने की प्रक्रिया:

1.आपको विधवा पेंशन फॉर्म भरना है यह ऑनलाइन आसानी से मिल जाएगा या फिर आप इस form को अपने csc center से प्राप्त कर सकते है और फिर इसे नगर पार्षद या फिर सांसद से इसे सत्यापित करवाए और फिर गांव के पटवारी से भी इसे verify करवाए|

2.इस form के सत्यापन के पश्चात कॉमन सर्विस सेण्टर (csc) में जा कर वहा csc के ऑपरेटर से form की जांच करवा ले और फिर वह एक CIDR ID generate करेगा और आपके सारे दस्तावेजों को स्कैन कर के online अपलोड करेगा जो की यह फॉर्म तहसीलदार के पास जाएगा|

 

3.अगर आपके सभी documents सही पाए जाते है तब एक ऑनलाइन सर्टिफिकेट जारी किया जाएगा जिसमे तहसीलदार के डिजिटल हस्ताक्षर उपस्थित होंगे| इन सब गतिविधियों की सूचना आपको आपके मोबाइल नंबर पर मिलती रहेंगी|

4.आप csc से अपना विधवा पेंशन लेटर लेकर और फिर बैंक जा कर इस लेटर को जमा करवा सकते है|

इस पूरी प्रक्रिया में ज्यादा समय नहीं लगता है मान के चलिए कि करीब एक हफ्ते के अंदर आपकी पेंशन जाएगी होता है तो आप csc में जा कर पता कर सकते है| और apply कैसे करे पूरी step जाने के लिए आप हमारे दुसरे आर्टिकल को read kijiye

तो आप जान गए कि कैसे कोई विधवा पेंशन योजना के लिए apply कर सकता है| घर के मुखिया की मृत्यु के बाद पूरा परिवार का ढांचा डगमगा जाता है इस कठिन वक़्त में परिवार की सबसे बुनियादी जरुरत उसकी आर्थिक जरूरते होती है| अगर आप इस पोस्ट को पढ़ रहे और आप भी किसी ऐसे परिवार को जानते है जिनके साथ एक ऐसा ही हादसा हुआ तो उन्हें इस पेंशन तक पहुंचने में मदद जरूर करे| आपको यह पोस्ट कैसा लगा हमे अपने विचार कमेंट के द्वारा जरूर बताए

2 COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.