Saurabh Dwivedi (The Lallantop) Success Story in Hindi

8

सबसे अधिक Trending News Provide करने वाली,Saurabh Dwivedi(The Lallantop)के बारे में  – एक जमाने तो जब हमें किसी भी खबर का पता केवल टेलीविजन और रेडियो अभी के माध्यम से मिल पाता था लेकिन अब मोबाइल और कंप्यूटर का जमाना हैं। सोशल मीडिया के माध्यम से कोई भी खबर तेजी से वायरल हो जाती हैं।

Jio के आने के बाद भारत में इंटरनेट काफी सस्ता हो चुका है और इस वजह से अभी लोग सोशल मीडिया से जुड़े हुए हैं। YouTube और Facebook जैसे Platforms पर अब काफी सारि कम्पनिया आ चुकी हैं जो हमे अलग अलग तरह की खबरे Provide करती हैं। अगर आप भी Facebook और YouTube आदि Platforms पर खबरे देखते हो तो आपने भी कभी न कभी The Lallantop का नाम जरूर सुना होगा।

Saurabh Dwivedi

The Lallantop अभी के समय की सबसे बड़ी भारतीय Digital News Provide कम्पनीयो में से एक हैं। The Lallantop YouTube और Facebook जैसे Platforms पर सबसे अधिक Trending News Provide करने वाली कम्पनियो में से एक हैं।

अगर आप The Lallantop के बारे में जानते हो तो आप इसके Saurabh Dwivedi के बारे में भी जरूर जानते होंगे। Saurabh Dwivedi The Lallantop की आपार सफलता का कारण हैं।

Saurabh Dwivedi बिल्कुल सरल और खड़ी भाषा में रोचक अंदाज से News बताते है और इस वजह से लोग उन्हें काफी पसन्द करते हैं। उनके इसी अंदाज की वजह से आज The Lallantop इतना सफल हुआ हैं और वह भी लोगो के बीच काफी लोकप्रिय हो गए।

Saurabh Dwivedi आज एक सफल और एक लोकप्रिय News Anchor हैं लेकिन उन्होंने यह मुकाम अपनी कड़ी मेहनत के जरिये हासिल किया हैं। हर सफल व्यक्ति की तरह सौरभ द्विवेदी ने भी शुरुआत Zero से ही की थी और आज वह इस मुकाम पर हैं की लोग उनकी प्रशंसा करते हुए नहीं थकते।

सौरभ द्विवेदी कई लोगों के लिए एक बड़ी Inspiration हैं। अगर आप भी सोशल मीडिया पर अपने करियर रहने के बारे में सोचते हो तो आपको सौरभ द्विवेदी की रोचक और शानदार Success Story यानी की सफलता की कहानी जान लेनी चाहिए। आज के इस पोस्ट में हम Saurabh Dwivedi की Inspirational Story आपको बताने वाले हैं।

Saurabh Dwivedi Success Story in Hindi – सौरभ द्विवेदी की सफलता की कहानी

मशहूर पत्रकार सौरभ द्विवेदी का जन्म उत्तर प्रदेश के एक जिले ओरई में हुआ था। सौरभ द्विवेदी का जन्म एक ब्राह्मण परिवार में हुआ था और इन्हें शुरुआत से ही काफी अच्छे संस्कार मिले थे।

सौरभ द्विवेदी ने अपनी शुरुआती पढ़ाई ओरई के एक साधारण से स्कूल सरस्वती शिशु विहारमें पूरी की थी। इसके बाद वह कानपुर चले गए और वहां उन्होंने एक बोर्डिंग स्कूल में रहकर अपने आगे की पढ़ाई शुरू की। सौरभ ने कानपुर में ही Maths में Graduation पूरी की।

अपनी शुरुआती पढ़ाई के दौरान सौरभ द्विवेदी का निबन्ध लेखन में काफी Interest था। एक बार जब उनकी एक टीचर ने उनका लिखा गया निबंध देखा तो बहुत से काफी प्रभावित हुए और उन्होंने सौरभ से कहा कि तुम्हें तो एक पत्रकार होना चाहिए।

टीचर ने तो यह बात साधारण तो पर की थी लेकिन सौरभ कही न कही इस बात को अपने दिमाग में उतार चुके थे। निबंध लेखन में रुचि कारण सौरभ की रुचि हिंदी साहित्य में भी काफी बढ़ गई हो इस वजह से वह दिल्ली में जाकर हिंदी साहित्य की पढ़ाई करने लगे।

साहित्य कोई साधारण विषय नहीं होता और इसे समझने के लिए  काफी मेहनत करनी पड़ती हैं। सौरभ एक मैथमेटिक्स के स्टूडेंट थे लेकिन फिर भी उन्होंने कहते में रुचि होने के कारण साहित्य को चुना और शायद यह उनका एक बेहतरीन फैसला था।

हिंदी साहित्य में बढ़ती हुई रुचि के कारण सौरभ दिल्ली की नौकरी यूनिवर्सिटी जवाहरलाल नेहरु यूनिवर्सिटी में आ गए। यहां पर उन्होंने हिंदी साहित्य की पढ़ाई करने शुरू की ओर हिंदी साहित्य में Ph.D कर ली।

Jawaharlal Nehru University से अपनी journalism की पढ़ाई करने के बाद सौरभ द्विवेदी ने Star News में एक Intern के रूप में काम किया। काफी सारी छोटी और साधारण न्यूज़ में रिपोर्टिंग का काम करने के बाद Saurabh Dwivedi को Astro Show में काम करने के मौका मिला।

इस Show की सफलता के बाद Saurabh Dwivedi ने Times Group को जॉइन कर लिया। Times Group में काम करने के बाद Saurabh Dwivedi ने Journalism के क्षेत्र में काफी अच्छा अनुभव प्राप्त कर लिया।

करीब 3 साल तक नवभारत टाइम्स में काम करने बाद Saurabh Dwivedi ने भास्कर Group जॉइन किया और वह Editor के रूप में काम करने लगे।

इसके बाद Saurabh Dwivedi ने India Today Group को जॉइन किया जो Hindi News के क्षेत्र में काफी विकसित था। हिंदी न्यूज़ के बढ़ते हुए क्रेज को सौरभ ने अछि तरह से समझ लिया। करीब 27 वर्ष की उम्र में ही सौरभ पत्रकारिता के क्षेत्र में काफी अच्छा अनुभव प्राप्त कर चुके थे।

सौरभ यह बात पूरी तरह से समझ चुके थे कि न्यूज़ को किस तरह से बनाना होता है और लोग किस अंदाज में न्यूज़ देखना पसंद करते हैं। अपने बेहतरीन अनुभव और पत्रकारिता के क्षेत्र में अपनी जबरदस्त जानकारी के चलते सौरभ द्विवेदी में सोशल मीडिया पर The Lallantop नाम से अपना एक News Channel बनाया।

सौरभ द्विवेदी की प्रतिभा के कारण The Lallantop ने सोशल मीडिया पर आते ही धमाल मचा दिया और आज The Lallantop एक जानी मानी Media Company बन चुकी हैं जिससे कई लोग जुड़े हुए हैं।

The Lallantop ने Political News के क्षेत्र में काफी लोकप्रियता हासिल की हैं। The Lallantop अभी के समय में Latest Political News के साथ Entertainment News, Sports News, General Knowledge, Social Media Trends News, Movies Reviews जैसे Topics पर दमदार Content उपलब्ध करवाता हैं।

YouTube पर The Lallantop के 11 Millions से भी अधिक Subscribers हैं और यह आंकड़ा तेजी से बढ़ता ही जा रहा हैं। यह सब सौरभ की कड़ी मेहनत का ही फल हैं। आज Saurabh Dwivedi हजारो लोगो के लिए एक Motivation बन चुके हैं।

So Guys, उम्मीद हैं की आपको हमारे द्वारा लिखी हुई यह पोस्ट Saurabh Dwivedi (The Lallantop) Success Story in Hindi पसंद आई होगी। अगर आप ऐसी अन्य मोटिवेशनल आर्टिकल्स में रुचि रखते हैं तो हमारे साथ जुड़े रहे और सोशल मीडिया पर हमें फॉलो करे।

8 कॉमेंट्स

  1. Hi brother,
    1. aap apne blog par adsense use kyon nahi karte?
    2. maine dekha aapke blog par sirf amazon affiliate link hai, main janna chahta hoon ki aap kaise today’s deals ka banner add kiya hai.

  2. बेशक लल्लनटॉप काफी फेमस है लेकिन जो वे पहले थे वो आज नहीं है. आज वे बिक चुके है और उनकी न्यूज़ ज्यादातर विवादित होने लगी है. ये मेरा अपना विचार बेशक शायद आप इससे सहमत ना हो उनके बारे में बताने के लिए धन्यवाद

जवाब दे

अपना कोमेंट लिखे
अपना नाम लिखे

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.