Aadhaar Virtual Id Kya Hai,Aur Generate Kaise Kare

Aadhaar Card अब काफी उपयोगी हो चुका है। किसी भी काम के लिए Aadhaar Card होना बहुत जरूरी है चाहे वह SIM लेने की बात हो या Bank Account खुलवाने की, अगर आपके पास Aadhaar Card नहीं होगा तो आप यह काम नहीं कर पाएंगे।

लेकिन कई जगह है जब आप अपना Aadhaar Number दे देते हैं तो आजकल उनका काफी MissUse भी होता है। इससे आपके ऊपर खतरा मंडरा रहा है कि हमारा Aadhaar Card Number हमारे लिए मुसीबत ना बन जाए, यही कारण है कि अधिकतर लोग  अपने Aadhaar Card Number किसी को भी देने से झिझकते है।

हाल ही में एक यह खबर भी आई थी कि Aadhaar Card की जानकारी ₹500 में खरीदी और बेची जा सकती है और वहीं दूसरी तरफ सरकार Aadhaar Card को हमारी सभी सेवाओं से जोड़ रही है तो ऐसे में Aadhaar Card का Number भी देना किसी को सुरक्षित नहीं है।

अगर आप भी अपना Aadhaar Card Number किसी को नहीं देना चाहते तो सरकार ने अब उसका भी उपाय निकाल लिया है वह है ‘Aadhar Virtual Id’। आज हम इसी के बारे में बात करेंगे और जानेंगे कि Aadhaar वर्चुअल ID क्या है ? और यह कैसे काम करती है। चलिए आज हम बात करेंगे ??

Aadhar Card Virtual ID kya hai aur Isse Suru Kyu Kya Gaya,Aadhar Virtual ID ke kya fayde Advantages hai,kya Aadhar Card Virtual ID Hamare data Ko Secure rakh payega,Aadhaar Virtual ID Kaise Banaye Ya Generate Kare

 

What Is Aadhar Virtual ID in Hindi ? Aadhaar Virtual Id Kya Hai Hindi Me Jane

Aadhaar वर्चुअल आईडी एक ऐसी सुविधा है जो कि नकल नहीं की जा सकेगी और इसमें Aadhaar Card होल्डर के केवल बेसिक पहचान जैसे कि नाम पता और तस्वीर रहेगी। यानी कि कोई भी फर्जी वेबसाइट या हैकर आपके Aadhaar Card को भेज नहीं सकता और आपकी डीटेल्स नहीं निकाल सकता।

यूआईडीएआई का कहना है कि वर्चुअल ID को आप एक से ज्यादा बार जनरेट कर सकते हैं और दो बार जनरेट करने पर पहली वाली वर्चुअल ID इनवैलिड हो जाएगी इससे कि आपको ज्यादा सिक्योरिटी मिलेगी। हमारे देश के 119 करोड लोगों की सुरक्षा के लिए सरकार ने यह कदम उठाया है जिससे कि हमारी जानकारी कोई भी गलत इंसान हासिल ना कर सके।

 

Aadhaar सुविधा को मजबूत बनाने के लिए यूआईडीएआई ने 1 मार्च से इस सुविधा को लागू किया है जिसमें कि आप अपनी वर्चुअल ID को जनरेट कर सकते हैं लेकिन यह सीमित समय तक है। कहां जा रहा है कि केवल Aadhaar Card होल्डर ही ऐसे वर्चुअल ID को प्राप्त कर सकेगा उसके अलावा और कोई भी इस वर्चुअल ID को यूआईडीएआई की वेबसाइट से प्राप्त नहीं कर सकता।

अगर Aadhaar Card होल्डर चाहे तो ही वर्चुअल ID को ईमित्र या किसी इंटरनेट कैफे से प्राप्त किया जा सकता है। यह वर्चुअल ID आपके Aadhaar Card के प्लान की तरह होती है जिसमें आपकी अधिक इंफॉर्मेशन तो नहीं होती लेकिन केवल बेसिक इनफार्मेशन होती है जिससे कि आपका Aadhaar Card से होने वाला काम भी हो जाएगा और किसी को डिटेल्स भी पता नहीं लगेगी।

वर्चुअल ID की वजह से 119 करोड़ लोगों को अपने Aadhaar Card के 16 डिजिट Number को पाने के लिए काफी आसानी होगी। हम इस वर्चुअल आईडी के टेंपरेरी Number को किसी भी Bank या अन्य जगह है बिना किसी चिंता के दे सकते हैं और अगर यह किसी और के हाथ लग भी जाए तो भी चिंता करने की कोई बात नहीं क्योंकि वह उसका उपयोग नहीं कर पायेगा।

 

सिक्योरिटी के मामले में यह वर्चुअल ID Aadhaar Card से काफी ज्यादा सुरक्षित है क्योंकि इसमें हमारी केवल मात्र बेसिक डिटेल्स होती है। अगर Aadhaar Card की बात करता हूं हमें फिलहाल Aadhaar Card से जुड़े किसी भी काम के लिए चीजें प्रोवाइड करत हैं जो कि हमारा नाम, पता, तस्वीर, मोबाइल Number और जन्म तिथि है लेकिन वर्चुअल ID के बाद से हम केवल तीन ही चीजें प्रदान करेंगे जो कि हमारा नाम, पता और तस्वीर होगी।

वर्चुअल ID को लाने का कारण यह है कि लोगों की डिटेल्स सुरक्षित रहें और उनको किसी प्रकार का कोई नुकसान नहीं पहुंचाया जा सके क्योंकि अगर ऐसा होता है तो सरकार की तरफ से लोगों को खतरा महसूस होता है जबकि यह नहीं होना चाहिए इसलिए वर्चुअल ID को प्रयोग में लाया गया। सीधी सी भाषा में कहें तो हमारी प्राइवेसी के लिए सरकार ने वर्चुअल ID को लागू किया। 1 जून 2018 से यह अनिवार्य हो जाएगी।

 

How To Generate Virtual ID in Hindi ? Aadhaar Vertual ID Generate Kaise Kare  ?

अगर अब आप सोच रहे हैं कि वर्चुअल ID को जनरेट कैसे किया जाए तो यह काफी आसान काम है बस आपको मैं जो बताऊंगा उन स्टेप्स को फॉलो करना है।

  1. अपना Aadhaar Card जनरेट करने के लिए आपको सबसे पहले अपने Aadhaar Card के ऑफिशियल वेबसाइट के वर्चुअल ID  के पेज पर विजिट करना होगा जिसका लिंक नीचे दिया गया है।
  2. https://resident.uidai.gov.in/web/resident/vidgeneration
  3. अब आपको एक बॉक्स दिख रहा होगा जिस पर क्लिक करके आपको अपने 16 डिजिट के Aadhaar Number को उस में एंटर करना है, 
  4. इसके बाद आपको सेंड ओटीपी के ऑप्शन पर क्लिक करना है जिसके बाद आप के Aadhaar Card में रजिस्टर्ड मोबाइल Number पर एक मैसेज आएगा जोकि ओटीपी होगा जिसमें एक कोड होगा को उस कोड को वेबसाइट के ‘Enter OTP’ के बॉक्स में डालना है,
  5. ओटीपी को सफलतापूर्वक ही डाल देने के बाद अब आपको सबमिट के बटन पर क्लिक करना है जिसके बाद आपको अपने वर्चुअल ID मिल जाएगी। 

आप अब देख चुके हैं कि यह काम कितना आसान है तो चलिए यह भी जान लेते हैं कि वर्चुअल ID के क्या फायदे और क्या नुकसान है।

 

The Benefits Of Aadhar Virtual ID ? Aadhaar Virtual ID Ke fayde ?

  1. Aadhaar वर्चुअल आईडी के जरिया जहां पर भी आप इस वर्चुअल ID को देते हैं वहां पर केवल जो डिटेल्स जरूरी है वह ही एक्सप्रेस की जाती है इसके अलावा अन्य डिटेल्स गोपनीय रहती है यानी कि वह वर्चुअल ID लेने वाले को पता नहीं चलती।
  2. यह Aadhaar Card की एक सुविधा है जो कि आपके केवाईसी में भी काम में आ सकती हूं यानी कि आपको उसके लिए Aadhaar Card की जरूरत नहीं पड़ेगी।
  3. यूआईडीएआई के अनुसार इसका डुप्लीकेट नहीं बनाया जा सकता है यानी कि इससे आपकी पहचान गोपनीय ही रहेगी।

 

The Disadvantages Of Virtual ID in Hindi ? Aadhaar Virtual Id Ke Nuksan ?

हर चीज के नुकसान नहीं होता इसी तरह से Aadhaar Card वर्चुअल आईडी के भी कोई नुकसान नहीं है क्योंकि इसमें हमारी सुरक्षा ही होती है लेकिन फिर भी अगर कोई छोटा-मोटा नुकसान हो तो उससे कोई खास फर्क नहीं पड़ता क्योंकि सुरक्षा ही सबसे पहले और महत्वपूर्ण होती है और अभी तक इसका कोई नुकसान सामने आया भी नहीं है।

अगर आपसे वर्चुअल ID को भी जाए तो भी आप इसे दोबारा निकाल सकते हैं और पहली वाली वर्चुअल ID इनवैलिड हो जाएगी जिससे कि कोई भी नुकसान नहीं होगा। जबकि अगर आपका Aadhaar Card खो जाए तो इससे नुकसान होने की संभावना है ।

तो दोस्तो, उम्मीद करता हूं कि वर्चुअल ID से जुड़ा हुआ यह शानदार पोस्ट आपको जरूर पसंद आया होगा और आप जान गए होंगे कि वर्चुअल ID क्या है और यह कैसे काम करती है ? अगर आपको अभी भी वर्चुअल ID को लेकर कोई सवाल है तो आप कमेंट में जरूर पूछ सकते है।

इस पोस्ट को सोशल मीडिया पर शेयर करे और अन्य लोगो तक भी यह जानकारी जरूर पहुचाये। हर बार की तरह आपने इस बार भी हमारी पोस्ट को पूरा पढ़ा आपका सदर दिल से धन्यबाद |

Previous articleWhatsapp pe Download hone se pahle aur download Hone Ke Bad Kuchh Aur Dikhne Wali Image Kaise Banaye
Next articleBootstrap Kya Hai Aur Iske Fayde
मै Ravi Kumar, मै एक Teacher(math,Computer) हूँ,और साथ मे Internet Aur Technology पर Post लिखना मुझे पसंद है,मै फ्री-टाइम में AnyTechinfo.com पर Post डालता हूँ. आप सभी से request है इस साईट को सफल बनाने की मेरी कोशिश में अपना सहयोग दें. अगर आपको यह Post अच्छा लगा हो तो कृपया इसे Facebook And Other Social Media पर Share जरूर करें| आपका यह प्रयास हमें और अच्छे Article लिखने के लिए प्रेरित करेगा| AnyTechinfo.com को The best Hindi Blog बनाने के लिए बस आप लोग अपना साथ बनाए रखे और हमें सपोर्ट करते रहें.

39 COMMENTS

  1. Hi Sahu Sir…

    trending and very useful information about adhar virtual id…

    your writing skill is awesome but can be improve for more impact of visitors… thank you…

  2. Yahabpar log apni opinions bahut badia de rahe hai.. aur post bilkul bhi theek nahi hai…
    Maine blogging se related post ki hai. Jo logo ko kuchh samajh me aayega..

  3. Mujhe 8 class se hi ek website banani thi us time songs.pk top par thi abhi 3-4 number par h agar mai yahi baat dusro ko batau to kya wo manege nahi na han mai kisi ko follow karke blogging suru ki par iska mtlab nahi ki maine use dekhkar suru ki balki usne raasta bataya hai

  4. blogging mai wahi famous ho sakta hai jiski planning badhiya ho or ye post itne khas nhi h har koyi dusre.se sikhta h tabhi vo aage jake kuch or nya krta h

  5. Badhiya ravi bhai yeh post maine abhi facebook par dekha title dekha toh interesting laga so maine read kiya. Waise sabhi bloggers ek dusre ko dekhkar hi blogging start karte hai. Aapne bhi kahi blogging ke bare mein padha hoga tabhi toh aaj aap yeh blog manage kar rahe ho, am i right ? Isi tarah sabhi bloggers ek dusre ko dekhar hi blogging start karte hai. Second baat chahe kitna bhi competition badh jaye agar aapke andar asli blogging spirit hai toh aapko success hone se koi nahi rok sakta. Waise bhi aajkal sabhi field mein competition hai iska matlab yeh nahi ki hum kuch karna chhod de.

  6. O bhai …Pata he Hain Log blogging Kisiko dekh ke Karte Hain.aaj Duniya Main Sab Chije Ek dusre ka Dekh.ke He Kiya Jata Hain 5%Saayad Nai Hoga. Hum Kuch Sikh ke Janam Nai Lete Bas Dekhke He Sab Sikhte Hain Or Aadhi duniya Gulam.Hain Sab Ka Apna Business nai Hota..!!!

    baat Rahi blogging ki to Kiski Ka shokh hota hain Sirf baate Share karneka logo ke Help Karne Ka. or Jo ek baar es main Aayega wo samj he jayega ke use karna he ya chod dena hain… yeah time ke barabadi nai hain . muje v kuch earn nai ho raha but it’s my hobby so me logo ko Follow karta Hu muje acha lagta.hain

    I don’t like this post…!!!

  7. bahut badiya post hai ravi ji ye to such hai ki is time 60% blogger kewal dusro ko dekh kar hi blog bna liye hai unka apna koi experience nhi hai , blogging tabhi start kare jab aap ko khud pura knowledge ho

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here